List of UNESCO World Heritage sites in India | भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की सूची

List of UNESCO World Heritage sites in India | भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की सूची

List of UNESCO World Heritage sites in India | भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की सूची

युनेस्को विश्व विरासत स्थल ऐसे खास स्थानों जैसे वन क्षेत्र, पर्वत, झील, मरुस्थल, स्मारक, भवन, या शहर इत्यादि को कहा जाता है, जो विश्व विरासत स्थल समिति द्वारा चयनित होते हैं, और यही समिति इन स्थलों की देखरेख युनेस्को (UNESCO: United Nations Educational, Scientific and Cultural Organization) के तत्वाधान में करती है।

इस कार्यक्रम का उद्देश्य विश्व के ऐसे स्थलों को चयनित एवं संरक्षित करना होता है जो विश्व संस्कृति की दृष्टि से मानवता के लिए महत्वपूर्ण हैं। कुछ खास परिस्थितियों में ऐसे स्थलों को इस समिति द्वारा आर्थिक सहायता भी दी जाती है।
प्रत्येक विरासत स्थल उस देश विशेष की संपत्ति होती है, जिस देश में वह स्थल स्थित हो; परंतु अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का हित भी इसी में होता है कि वे आनेवाली पीढियों के लिए और मानवता के हित के लिए इनका संरक्षण करें। बल्कि पूरे विश्व समुदाय को इसके संरक्षण की जिम्मेवारी होती है।

ऐसे महत्वपूर्ण स्थलों के संरक्षण की पहल यूनेस्को द्वारा की गई। इस आशय की एक अंतर्राष्ट्रीय संधि जो कि विश्व सांस्कृतिक और प्राकृतिक धरोहर संरक्षण की बात करती है 16 नवंबर 1972 को संयुक्त राष्ट्र संघ के मानवीय पर्यावरण सम्मेलन में “विश्व के प्राकृतिक और सांस्कृतिक धरोहरों पर सम्मेलन” को स्टॉकहोम, स्वीडन में स्वीकृति दी गई।

यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल की इस संधि में मुख्य रूप से 3 प्रकार के स्थल आते है-

प्राकृतिक धरोहर स्थल - ऐसी धरोहर भौतिक या भौगोलिक प्राकृतिक निर्माण का परिणाम या भौतिक और भौगोलिक दृष्टि से अत्यंत सुंदर या वैज्ञानिक महत्व की जगह या भौतिक और भौगोलिक महत्व वाली यह जगह किसी विलुप्ति के कगार पर खड़े जीव या वनस्पति का प्राकृतिक आवास हो सकती है।

सांस्कृतिक धरोहर स्थल - इस श्रेणी की धरोहर में स्मारक, स्थापत्य की इमारतें, मूर्तिकारी, चित्रकारी, स्थापत्य की झलक वाले, शिलालेख, गुफा आवास और वैश्विक महत्व वाले स्थान; इमारतों का समूह, अकेली इमारतें या आपस में संबद्ध इमारतों का समूह; स्थापत्य में किया मानव का काम या प्रकृति और मानव के संयुक्त प्रयास का प्रतिफल, जो कि ऐतिहासिक, सौंदर्य, जातीय, मानवविज्ञान या वैश्विक दृष्टि से महत्व की हो, शामिल की जाती हैं।

मिश्रित धरोहर स्थल - इस श्रेणी के अंतर्गत् वह धरोहर स्थल आते हैं जो कि प्राकृतिक और सांस्कृतिक दोनों ही रूपों में महत्वपूर्ण होती हैं।

भारत को विश्व धरोहर सूची में 14 नवंबर 1977 में स्थान मिला।
चयन मानदंड
सन 2004 के अंत तक, सांस्कृतिक धरोहर हेतु छः मानदण्ड थे और प्राकृतिक धरोहर हेतु चार मानदण्ड थे। सन 2005 में, इसे बदल कर कुल मिलाकर दस मानदण्ड बना दिये गये। किसी भी नामांकित स्थल को न्यूनतम एक मानदण्ड तो पूरा करना ही चाहिये।

सांस्कृतिक मानदंड
  1. मानव रचनात्मक प्रतिभा की उत्कृष्ट कृति का प्रतिनिधित्व करने के लिए।
  2. वास्तुकला या प्रौद्योगिकी, स्मारकीय कला, टाउन-प्लानिंग या लैंडस्केप डिज़ाइन के विकास पर, समय-समय पर या दुनिया के एक सांस्कृतिक क्षेत्र के भीतर, मानवीय मूल्यों का एक महत्वपूर्ण आदान-प्रदान प्रदर्शित करने के लिए।
  3. एक सांस्कृतिक परंपरा या एक सभ्यता जो जीवित है या जो गायब हो गई है के लिए एक अनोखी या कम से कम असाधारण साक्ष्य को सभालने के लिए।
  4. एक प्रकार की इमारत, वास्तुशिल्प या तकनीकी कलाओं का समूह या परिदृश्य का एक उत्कृष्ट उदाहरण होना चाहिए जो मानव इतिहास में महत्वपूर्ण चरणों को दर्शाता है।
  5. एक पारंपरिक मानव बस्ती, भूमि-उपयोग, या समुद्र-उपयोग का एक उत्कृष्ट उदाहरण होना चाहिए जो एक संस्कृति (या संस्कृतियों) का प्रतिनिधि है, या पर्यावरण के साथ मानव संपर्क खासकर जब यह अपरिवर्तनीय परिवर्तन के प्रभाव में असुरक्षित हो गया है।
  6. घटनाओं या जीवित परंपराओं, विचारों या विश्वासों, उत्कृष्ट सार्वभौमिक महत्व के कलात्मक और साहित्यिक कार्यों के साथ प्रत्यक्ष या वास्तविक रूप से जुड़ा हो। (समिति का मानना ​​है कि इस मानदंड को विशेषतः अन्य मानदंडों के साथ संयोजन में उपयोग किया जाना चाहिए);
प्राकृतिक मानदंड
  1. उत्कृष्ट प्राकृतिक घटनाओं या असाधारण प्राकृतिक सुंदरता और सौंदर्य महत्व के क्षेत्रों को समाहित करने के लिए।
  2. पृथ्वी के इतिहास के प्रमुख चरणों का प्रतिनिधित्व करने वाले उत्कृष्ट उदाहरण जिसमें जीवन का रिकॉर्ड, भू-आकृतियों के विकास में चल रही महत्वपूर्ण भूवैज्ञानिक प्रक्रियाओं, या महत्वपूर्ण भू-आकृति या भौतिक विशेषताओं के लिए।
  3. स्थलीय, ताजे पानी, तटीय तथा समुद्री पारिस्थितिक तंत्र और पौधों तथा जानवरों के समुदायों के उत्थान तथा विकास में चल रहे महत्वपूर्ण पारिस्थितिक और जैविक प्रक्रियाओं का प्रतिनिधित्व करने वाले उत्कृष्ट उदाहरण के लिए।
  4. जैविक विविधता के यथावत संरक्षण के लिए सबसे महत्वपूर्ण और सार्थक प्राकृतिक आवास शामिल करने के लिए, जिनमें विज्ञान या संरक्षण के दृष्टिकोण से उत्कृष्ट सार्वभौमिक मूल्य की खतरे वाली प्रजातियां शामिल हो।

भारत के विश्व धरोहर स्थलों की सूची:

S.N.NameImageYearPlacecriterion
1 अजंता गुफाएँ
Ajanta Caves - अजंता गुफाएँ
1983 औरंगाबाद, महाराष्ट्र (i)(ii)(iii)(vi)
अजंता गुफाएँ महाराष्ट्र, भारत में स्थित तकरीबन 29 चट्टानों को काटकर बना बौद्ध स्मारक गुफाएँ जो द्वितीय शताब्दी ई॰पू॰ के हैं। यहाँ बौद्ध धर्म से सम्बन्धित चित्रण एवम् शिल्पकारी के उत्कृष्ट नमूने मिलते हैं। इनके साथ ही सजीव चित्रण भी मिलते हैं। यह गुफाएँ अजंता नामक गाँव के सन्निकट ही स्थित है, जो कि महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में है। अजंता गुफाएँ सन् 1983 से युनेस्को की विश्व धरोहर स्थल घोषित है।
2 आगरा का किला
Agra Fort आगरा का किला
1983 आगरा, उत्तर प्रदेश (iii)
आगरा का किला एक यूनेस्को द्वारा घोषित विश्व धरोहर स्थल है। यह किला भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के आगरा शहर में स्थित है। इसके लगभग 2.5 किलोमीटर उत्तर-पश्चिम में ही विश्व प्रसिद्ध स्मारक ताज महल मौजूद है। इस किले को कुछ इतिहासकार चारदीवारी से घिरी प्रासाद महल नगरी कहना बेहतर मानते हैं।

यह भारत का सबसे महत्वपूर्ण किला है। भारत के मुगल सम्राट बाबर, हुमायुं, अकबर, जहांगीर, शाहजहां और औरंगज़ेब यहां रहा करते थे, व यहीं से पूरे भारत पर शासन किया करते थे। यहां राज्य का सर्वाधिक खजाना, सम्पत्ति व टकसाल थी। यहाँ विदेशी राजदूत, यात्री व उच्च पदस्थ लोगों का आना जाना लगा रहता था, जिन्होंने भारत के इतिहास को रचा।
3 ताज महल
1983 आगरा, उत्तर प्रदेश (i)
ताजमहल भारत के आगरा शहर में स्थित एक विश्व धरोहर मक़बरा है। इसका निर्माण मुग़ल सम्राट शाहजहाँ ने, अपनी पत्नी मुमताज़ महल की याद में करवाया था।

ताजमहल मुग़ल वास्तुकला का उत्कृष्ट नमूना है। इसकी वास्तु शैली फ़ारसी, तुर्क, भारतीय और इस्लामी वास्तुकला के घटकों का अनोखा सम्मिलन है। सन् 1983 में, ताजमहल युनेस्को विश्व धरोहर स्थल बना। इसके साथ ही इसे विश्व धरोहर के सर्वत्र प्रशंसा पाने वाली, अत्युत्तम मानवी कृतियों में से एक बताया गया। ताजमहल को भारत की इस्लामी कला का रत्न भी घोषित किया गया है। साधारणतया देखे गये संगमर्मर की सिल्लियों की बडी- बडी पर्तो से ढंक कर बनाई गई इमारतों की तरह न बनाकर इसका श्वेत गुम्बद एवं टाइल आकार में संगमर्मर से ढंका है। केन्द्र में बना मकबरा अपनी वास्तु श्रेष्ठता में सौन्दर्य के संयोजन का परिचय देते हैं। ताजमहल इमारत समूह की संरचना की खास बात है, कि यह पूर्णतया सममितीय है। इसका निर्माण सन् 1648 के लगभग पूर्ण हुआ था। उस्ताद अहमद लाहौरी को प्रायः इसका प्रधान रूपांकनकर्ता माना जाता है।
4 एलोरा गुफाएं
1983 महाराष्ट्र (i)(iii)(vi)
एलोरा या एल्लोरा (मूल नाम वेरुल) एक पुरातात्विक स्थल है, जो भारत में औरंगाबाद, महाराष्ट्र से 30 कि॰मि॰ (18.6 मील) की दूरी पर स्थित है। इन्हें राष्ट्रकूट वंश के शासकों द्वारा बनवाया गया था। अपनी स्मारक गुफाओं के लिए प्रसिद्ध, एलोरा युनेस्को द्वारा घोषित एक विश्व धरोहर स्थल है।

एलोरा भारतीय पाषाण शिल्प स्थापत्य कला का सार है, यहाँ 34 "गुफ़ाएँ" हैं जो असल में एक ऊर्ध्वाधर खड़ी चरणाद्रि पर्वत का एक फ़लक है। इसमें हिन्दू, बौद्ध और जैन गुफा मन्दिर बने हैं। ये पाँचवीं और दसवीं शताब्दी में बने थे। यहाँ 12 बौद्ध गुफाएँ (1-12), 17 हिन्दू गुफाएँ (13-29) और 5 जैन गुफाएँ (30-34) हैं। ये सभी आस-पास बनीं हैं और अपने निर्माण काल की धार्मिक सौहार्द को दर्शाती हैं।

एलोरा के 34 मठ और मंदिर औरंगाबाद के निकट 2 कि॰मि॰ के क्षेत्र में फैले हैं, इन्हें ऊँची बेसाल्ट की खड़ी चट्टानों की दीवारों को काट कर बनाया गया हैं। दुर्गम पहाड़ियों वाला एलोरा 600 से 1000 ईसवी के काल का है, यह प्राचीन भारतीय सभ्यता का जीवन्त प्रदर्शन करता है। बौद्ध, हिन्दू और जैन धर्म को भी समर्पित पवित्र स्थान एलोरा परिसर न केवल अद्वितीय कलात्मक सृजन और एक तकनीकी उत्कृष्टता है, बल्कि यह प्राचीन भारत के धैर्यवान चरित्र की व्याख्या भी करता है। यह यूनेस्को की विश्व विरासत में शामिल है।
5 कोणार्क सूर्य मंदिर
1984 ओडिशा (i)(iii)(vi)
कोणार्क सूर्य मन्दिर भारत में उड़ीसा राज्य में जगन्नाथ पुरी से ३५ किमी उत्तर-पूर्व में कोणार्क नामक शहर में प्रतिष्ठित है। यह भारतवर्ष के चुनिन्दा सूर्य मन्दिरों में से एक है। सन् १९८४ में यूनेस्को ने इसे विश्व धरोहर स्थल के रूप में मान्यता दी है।
6 महाबलिपुरम के स्मारक समुह
1984 तमिलनाडु (i)(ii)(iii)(vi)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
7 केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान
1985 राजस्थान (x)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
8 काज़ीरंगा राष्ट्रीय उद्यान
1985 असम (ix)(x)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
9 मानस राष्ट्रीय उद्यान
1985 असम (vii)(ix)(x)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
10 गोवा के गिरजाघर एवं कॉन्वेंट
1986 गोवा (ii)(iv)(vi)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
11 हम्पी
1986 कर्नाटक (i)(iii)(iv)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
12 फतेहपुर सीकरी
1986 उत्तर प्रदेश (ii)(iii)(iv)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
13 खजुराहो स्मारक समूह
1986 मध्य प्रदेश (i)(iii)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
14 सुंदरवन राष्ट्रीय उद्यान
1987 पश्चिम बंगाल (ix)(x)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
15 एलिफेंटा की गुफाएँ
1987 महाराष्ट्र (i)(iii)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
16 पत्तदकल
1987 कर्नाटक (iii)(iv)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
17 महान चोल मंदिर
1987 तमिलनाडु (ii)(iii)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
18 नन्दा देवी राष्ट्रीय उद्यान एवं फूलों की घाटी
1988, 2005 उत्तराखण्ड (vii)(x)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
19 साँची के बौद्ध स्तूप
1989 मध्य प्रदेश (i)(ii)(iii)(iv)(vi)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
20 हुमायूँ का मकबरा
1993 दिल्ली (ii)(iv)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
21 कुतुब मीनार एवं अन्य स्मारक
1993 दिल्ली (iv)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
22 भारतीय पर्वतीय रेल
1999
2005
2008
दार्जिलिंग, पश्चिम बंगाल
ऊटी, तमिलनाडु
कालका-शिमला, हिमाचल प्रदेश
(ii)(iv)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
23 बोधगया का महाबोधि विहार
2002 बिहार (i)(ii)(iii)(iv)(vi)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
24 भीमबेटका शैलाश्रय
2003 मध्य प्रदेश (iii)(v)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
25 चंपानेर-पावागढ़ पुरातत्व उद्यान
2004 गुजरात (iii)(iv)(v)(vi)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
26 छत्रपति शिवाजी टर्मिनस
2004 महाराष्ट्र (ii)(iv)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
27 दिल्ली का लाल किला
2007 दिल्ली (ii)(iii)(vi)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
28 जंतर मंतर, जयपुर
2010 राजस्थान (iii)(iv)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
29 पश्चिमी घाट
2012 महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल (ix)(x)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
30 राजस्थान के पहाड़ी दुर्ग
2013 राजस्थान (ii)(iii)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
31 ग्रेट हिमालयन राष्ट्रीय उद्यान
2014 हिमाचल प्रदेश (x)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
32 रानी की वाव
2014 गुजरात (i)(iv)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
33 नालंदा महाविहार (नालंदा विश्वविद्यालय)
2014 बिहार (iv)(vi)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
34 कंचनजंगा राष्ट्रीय उद्यान
2016 सिक्किम (iii)(vi)(vii)(x)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
35 कैपिटल कॉम्प्लेक्स
2016 चंडीगढ़ (i)(ii)(vi)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
36 अहमदाबाद का ऐतिहासिक शहर
2017 गुजरात (ii)(v)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
37 ‘विक्टोरियन गोथिक’ और ‘आर्ट डेको’
2018 मुंबई (ii)(iv)
विवरण: अपडेट किया जा रहा है...
❖❖❖ End ❖❖❖


List of UNESCO World Heritage sites in India | भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की सूची List of UNESCO World Heritage sites in India | भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की सूची Reviewed by Super Pathshala on 06:57 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.